Lehren

शत्रुघ्न सिन्हा के एक टेलीग्राम से पिता क्यो हुए नाराज़

हिंदी सिनेमा में शॉटगन के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा सिनेमा स्क्रीन पर हर किसी को खामोश कराते रहते हैं.पर असल जिंदगी में शत्रुघ्न सिन्हा अपने पिता के अनुशासन के तौर तरीको से खामोश रहा करते थे.

Shatrughan Sinha शत्रुघ्न सिन्हा के एक टेलीग्राम से पिता क्यो हुए नाराज़ Source : Press

हिंदी सिनेमा में शॉटगन के नाम से मशहूर शत्रुघ्न सिन्हा सिनेमा स्क्रीन पर हर किसी को खामोश कराते रहते हैं. पर असल जिंदगी में शत्रुघ्न सिन्हा अपने पिता के अनुशासन के तौर तरीको से खामोश रहा करते थे. एक बार शॉटगन जब FTII से घर जा रहे थे.तो सोचा क्यों ना घर वालों को बता दिया जाए.शत्रुघ्न सिन्हा ने य़हां खत लिखने के बजाए टेलीग्राम घर पर भेज दिया कि मैं फला दिन आ रहा हूं. वैसे एज जमाने में टेलीग्राम लोग तभी भेजते थे जब कोई इमरजेंसी होती थी. शत्रुघ्न सिन्हा का टेलीग्राम पाकर घर वाले तो बहुत खुश हुए.पर शत्रुघ्न सिन्हा के पिता जी अपने बेटे के टेलीग्राम भजने के फैसले से बेहद नाराज थे. जब शॉटगन घर आए तो सभी ने उनका दिल खोलकर स्वागत किया. पर पिता जी के कमरे में जब शत्रुघ्न सिन्हा गए तो पिता जी के गुस्से का शिकार उन्हे होना पड़ा. पिता जी के बिहैवियर से खुद शत्रुघ्न सिन्हा चकित थे कि ऐसा मैंने क्या कर दिया है. कि आप नाराज़ हो गए.तब उन्होने टेलीग्राम के औचित्य पर अपने बेटे को समझाया और कहा कि टेलीग्राम शब्द सुनते ही वो कैसे अपने बेटे के कुशल क्षेम के लिए व्याकुल हो गए थे. और शॉटगन के पिता ने अपने बेटे को समझाया कि टेलीग्राम तभी भेजते हैं जब कोई इमरजेंसी हो.तुम खत लिखकर हम लोगों को बता सकते थे. पता है टेलीग्राम मिलते ही मैं सबसे पहले एख ग्लास पानी पिया. परेसान हो गया कि बेटे ने टेलीग्राम भेजा है.पता नहीं क्या बात है. पिता की डांट के बाद शत्रुघ्न सिन्हा को बात समझ में आई. और फिर शॉटगन ने पिता से सॉरी बोला.

Loading...

You may also like