Lehren

सलीम-जावेद ने राजेश खन्ना की इस सुपरहिट फिल्म की पूरी कहानी ही बदल डाली!

राजेश खन्ना ने साऊथ की एक सुपरहिट फिल्म की रीमेक करने के लिए हामी भरी, लेकिन, फिल्म देखने के बाद उन्हे ये समझ आ गया कि, इसी तरह अगर ये फिल्म हिंदी में बनी तो ये जरूर फ्लॉप होगी। लिहाजा उन्होने सलीम-जावेद को इसकी कहानी दोबारा लिखने के लिए बुलावा भेजा।

Haathi Mere Saathi,हाथी मेरे साथी सलीम-जावेद ने राजेश खन्ना की इस सुपरहिट फिल्म की पूरी कहानी ही बदल डाली! Source : Press


राजेश खन्ना इतने बिजी सुपरस्टार थे कि, अपने पसंदिदा डिरेक्टर्स के अलावा शायद ही किसी प्रोड्यूसर डिरेक्टर से मिला करते थे, लेकिन, साऊथ के प्रोड्यूसर एमएम चिनप्पा देवर राजेश खन्ना के पास एक तमिल फिल्म के रीमेक का प्रपोजल लेकर पहुंचे। फिल्म की कहानी एक इंसान और हाथी की दोस्ती और प्यार की कहानी थी। ये फिल्म थी हाथी मेरे साथी, साऊथ में ये फिल्म सुपरहिट हुई थी, राजेश खन्ना को इस फिल्म को टालना था लिहाजा उन्होने अपनी प्राईस 9 लाख रुपए बताई, फिल्म के प्रोड्यूसर इसके लिए राजी हुए, अब राजेश फंस चुके थे, लिहाजा साईनिंग अमाऊंट लेने के बाद उन्होने फिल्म देखी, उन्हे ये समझ आ गया कि, ऐसी की ऐसी ही फिल्म अगर हिंदी में बनी तो जरूर पिटेगी, लिहाजा, फिल्म कहानी में बदलाव के लिए उन्होने उस वक्त के नए फिल्म राईटर जोडी सलीम-जावेद को बुला भेजा। दोनो ने फिल्म देखने के बाद उससे समांतर कहानी बनाई, हाथी और इंसान की दोस्ती का सेंट्रल आईडिया छोड़ बाकी सबकुछ बदल दिया।


सलीम और जावेद, इन दोनों ने फिल्म की कहानी में हिंदी फिल्म देखनेवालों के टेस्ट के हिसाब से काफी बदलाव किए और फिल्म जब बनी तब हिंदी और तमिल फिल्म में काफी अंतर था। हाथी मेरे साथी सुपरहिट रही। जिसका क्रेडिट सलीम जावेद की दोबारा लिखी कहानी को जाता है।