Lehren

अमिताभ बच्चन के व्यवहार से एक बार नाराज हो गए थे महमूद

अमिताभ बच्चन के लिए बॉम्बे टू गोवा मील का पत्थर साबित हुई. इसी फिल्म के बाद उन्हे जंजीर मिली और फिर अमिताभ शोहरत की बुलंदी पर पहुंच गए. सब कुछ अच्छा चल रहा था. अब अमिताभ के पिता की तबीयत खराब थी. तब महमूद उनसे मिलने आते थे. पर जब महमूद की बाईपास सर्जरी हुई. तब एक ही अस्पताल में होने के बावजूद अमिताभ बच्चन ने अपने भाई जान की खबर नहीं ली. इसी बात से महमूद खफा हो गए थे.

अमिताभ बच्चन, महमूद, Amitabh Bachchan, Mehmood अमिताभ बच्चन के व्यवहार से एक बार नाराज हो गए थे महमूद Source : Press

अभिनेता महमूद और अमिताभ बच्चन के बीच पिता और पुत्र जैसा रिश्ता था. खुद महमूद भी कहते थे कि यदि हरिवंश राय बच्चन ने अमित को जन्म दिया है. तो मैने उसे कमाना सिखाया है. पर एक बार महमूद अमिताभ बच्चन की एक आदत से काफी नाराज हो गए थे. ये कहानी मैं आपको बताऊं. इससे पहले जान लेते हैं. कि इन दोनों के बीच इतना करीबी रिश्ता कैसे बना. दरअसल महमूद के भाई अनवर अली भी अभिनेता रहे हैं. अनवर अली और अमिताभ बच्चन के बीच सात हिंदुस्तानी में काम करने के दौरान दोस्ती हो गई थी. और अकेले अमिताभ को अनवर अली ने काफी सहारा दिया था. उन्हे अपने पास रखा भी था. और इस तरह धीरे धीरे महमूद से भी उनकी पहचान हुई. महमूद ने अमिताभ बच्चन को देखते ही बता दिया था. कि ये लड़का काफी आगे जाएगा. पर उन दिनों अमिताभ बच्चन की फिल्में नहीं चल पा रही थी.

जब महमूद बॉम्बे टू गोवा नाम की फिल्म बनाने लगे. तब उसमें अमिताभ बच्चन को लीड कास्ट किया. हालाकि ये फिल्म तो उनता नहीं चली थी. पर अमिताभ बच्चन के लिए बॉम्बे टू गोवा मील का पत्थर साबित हुई. इसी फिल्म के बाद उन्हे जंजीर मिली और फिर अमिताभ शोहरत की बुलंदी पर पहुंच गए. सब कुछ अच्छा चल रहा था. अब अमिताभ के पिता की तबीयत खराब थी. तब महमूद उनसे मिलने आते थे. पर जब महमूद की बाईपास सर्जरी हुई. तब एक ही अस्पताल में होने के बावजूद अमिताभ बच्चन ने अपने भाई जान की खबर नहीं ली. इसी बात से महमूद खफा हो गए थे. देखिए ये रेयर इंटरव्यू जिसमें महमूद ने इस बात का जिक्र किया था. हालाकि बाद में दोनों ने अपने गिले शिकवे दूर किए थे. पर जब महमूद का इंतकाल हुआ तब अमिताभ बच्चन बहुत दुखी थे.