Lehren

राधे मां ने कहा- महिलाओं को हादसे के तुरंत बाद ही आवाज उठानी चाहिए

देशभर में सोशल मीडिया के जरिए शुरू हुए #MeToo कैंपेन के जरिए कई महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न के बारे में खुलकर बात करना शुरू किया है। ऐसी महिलाओं को स्वघोषित 'राधे मां' ने सलाह दी है। वे घटना के तुरंत बाद इस बारे में आवाज उठाये।

राधे मां राधे मां ने कहा- महिलाओं को हादसे के तुरंत बाद ही आवाज उठानी चाहिए Source : Press


देशभर में सोशल मीडिया के जरिए शुरू हुए #MeToo कैंपेन के जरिए कई महिलाओं ने अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न के बारे में खुलकर बात करना शुरू किया है। ऐसी महिलाओं को स्वघोषित 'राधे मां' ने सलाह दी है। वे घटना के तुरंत बाद इस बारे में आवाज उठाये।

मी टू कैंपेन के बारे में बात करते हुए राधे मां ने कहा, "ये गलत हो रहा है, पर मैं चाहती हूं कि जब अत्याचार हो औरत उसी टाइम अपनी आवाज उठाए।" राधे मां के इस बयान से साफ है कि वो मी टू को सपोर्ट तो कर रही हैं लेकिन जो लोग सालों पुराने अपने साथ हुए दुर्व्यवहार की घटना को साझा कर रहे राधे मां उनके समर्थन में नहीं हैं। राधे मां के अनुसार घटना के वक्त ही महिलाओं को अत्याचार के खिलाफ अवाज बुलंद करनी चाहिए।

नाना पाटेकर, विकास बहल, आलोक नाथ और कैलाश खेर जैसे बड़े सेलिब्रिटीज के बाद अब कॉमेडियन अदिति मित्तल पर हैरेसमेंट का आरोप लगा है। बता दें, तनुश्री दत्त से शुरू ये अभियान देश भर में फैल चुका है।