दिलीप कुमार की याददाश्त कमजोर, वो किसी को नहीं पहचान पाते

दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार 'सौदागर', 'कर्मा' और 'विधाता' का निर्देशन कर चुके वरिष्ठ फिल्मकार सुभाष घई ने कहा दिलीप जी की हालत देखकर उन्हें बहुत दुःख होता है। मंगलवार को दिलीप ने आईएएनएस से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, दिलीप कुमार से मिलकर बहुत दुखी हो जाता हूं।

दिलीप कुमार दिलीप कुमार की याददाश्त कमजोर, वो किसी को नहीं पहचान पाते Source : Press


दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार 'सौदागर', 'कर्मा' और 'विधाता' का निर्देशन कर चुके वरिष्ठ फिल्मकार सुभाष घई ने कहा दिलीप जी की हालत देखकर उन्हें बहुत दुःख होता है। मंगलवार को दिलीप ने आईएएनएस से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा, दिलीप कुमार से मिलकर बहुत दुखी हो जाता हूं।

घई, दिलीप कुमार से हाल ही में हुई मुलाकात के बारे में पूछने पर भावुक हो गए। घई ने कहा, 'मैं दिलीप साहब से इतना प्यार करता हूं कि मैं उनसे और नहीं मिलना चाहता हूं। मैं उन्हें और इस हालत में भी नहीं देख सकता हूं क्योकि मुझे बहुत रोना आता है। घई, ने आगे कहा हमारा कोई आज का रिश्ता नहीं है। हम एक दूसरे को अर्सो से जानते है। साथ ही मैंने उन्हें हमेशा अपना भाई की तरह माना है। लेकिन वो मुझे पहचान नहीं पाते हैं। वो इन दिनों किसी को पहचान नहीं पातें हैं।'' ऐसे मौके पर मैं खुद को एक ही सलाह देना चाहता हूं कि खुद पर कभी भी घमंड नहीं करना चाहिए''

उन्होंने कहा कि दिलीप कुमार भारतीय सिनेमा के शहंशाह रहे हैं और आज वह कुछ भी करने में असमर्थ हैं। घई ने कहा, "मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि वह बिना किसी कष्ट के शांतिपूर्वक जाएं। उन्होंने फिल्मों के लिए जो किया है, उससे वह हमेशा ही सिनेमा के शहंशाह रहेंगे, क्योंकि राजा भी शहंशाह का अनुसरण करते हैं। उनकी छत्रछाया में लगभग 11 दिलीप कुमारों ने जन्म लिया, और वे अब सुपरस्टार बन गए हैं। दिलीप साहब अपने आप में एक संस्थान हैं।" 


आप को बता दें, दिलीप कुमार फिलहाल मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती हैं।


Loading...