जब सारांश से रातों रात निकाल दिया गया था अनुपम खेर को

अनुपम खेर ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत महेश भट्ट की 'सारांश' (1984) से की थी. अनुपम ने अब तक करीब 500 फिल्मों में काम किया है. लेकिन सारांश के लिए उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर का पुरस्कार मिला था. लेकिन ये रोल इन्हे इतनी आसानी से नहीं मिली थी उन्हें इसके लिए कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था.

जब सारांश से रातों रात निकाल दिया गया था अनुपम खेर को जब सारांश से रातों रात निकाल दिया गया था अनुपम खेर को Source : Press

अनुपम खेर ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत महेश भट्ट की 'सारांश' (1984) से की थी. अनुपम ने अब तक करीब 500 फिल्मों में काम किया है. लेकिन सारांश के लिए उन्हें फिल्मफेयर बेस्ट एक्टर का पुरस्कार मिला था. लेकिन ये रोल इन्हे इतनी आसानी से नहीं मिली थी उन्हें इसके लिए कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था.

इस फिल्म के लिए सबसे पहले इंडस्ट्री बस अपना पैर जमा रहे एक्टर अनुपम खेर को साइन किया गया था. फिल्म की शूटिंग शुरू की जा चुकी थी तभी अनुपम को रातों रात हटा कर संजीव कुमार को कास्ट करने की बात की जाने लगी. ये बात सुनकर अनुपम बुरी तरह शॉक हो गए थे. 

उन्होंने तुरंत महेश भट्ट को कॉल किया. महेश ने उनसे कहा की इस रोल के लिए राजश्री प्रोडक्शन को कोई जाना-माना एक्टर चाहिए, लिहाजन संजीव कुमार को कास्ट किया गया है. मुंबई में नए नए आये अनुपम खेर मुंबई से अपना सामान समेटकर मुंबई वापस जा रहे थे तब रास्ते में महेश भट्ट का घर पड़ा, तभी उन्होंने सोचा की वो उन्हें ज़रूर कुछ सुनाकर जाएंगे.

अनुपम ने चिढ़कर महेश भट्ट को कहा, 'जाने से पहले मैं आपको ये बताने आया हूं कि आप एक नंबर के फ्रॉड हैं, झूठे हैं. पिछले छह महीने से मैं अपने रोल की प्रैक्टिस करने में लगा हुआ हूं और आज अचानक मुझे इस फिल्म से हटा दिया जा रहा है'.

महेश भट्ट को अनुपम खेर की ये बात दिल पर लग गई, उन्होंने तुरंत राजश्री प्रोडक्शन को फोन किया और कहा की यदि इस फिल्म में अनुपम खेर नहीं होंगे तो वे ये फिल्म निर्देशित नहीं करेंगे.