क्यों राजेश खन्ना की गाड़ी की धूल को सिन्दूर बना दिया करती थी लड़किया

जिस मास 'हिस्टीरिया' की लोग बात करते हैं, उसके अनगिनत किस्से मुझे सुनने को मिले कि कैसे उनकी सफेद गाड़ी, लड़कियों के लिपस्टिक के रंग से गुलाबी हो जाती थी और कैसे उनकी गाड़ी की धूल से लड़कियां अपनी मांग भरती थीं.

Rajesh Khanna क्यों राजेश खन्ना की गाडी की धूल को सिन्दूर बना दिया करती थी लड़किया Source : Press

राजेश खन्ना हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के पहले सुपरस्टार थे. काका के स्टाइल के लोग कायल थे, लडकियां उनकी हर एक ऐडा पर मरती थी चाहे वो उनके बालों का स्टाइल हो, या फिर पलकों को झुकाकर तीखी नज़रों से तीर चलना. उन्होंने अपना अदायगी से लम्बे दशक तक सभी को मनमुग्ध किये रखा. 

राजेश खन्ना की जीवनी पर आधारित किताब 'द अनटोल्ड स्टोरी ऑफ इंडियाज फर्स्ट सुपरस्टार' लिखने वाले यासिर उस्मान बताते हैं, "बंगाल की एक बुजुर्ग महिला थीं. उनसे मैंने पूछा कि राजेश खन्ना क्या थे आपके लिए? उन्होंने कहा कि आप नहीं समझेंगे.

जब हम उनकी फिल्म देखने जाते थे तो हमारी और उनकी बाकायदा डेट हुआ करती थी". हम मेकअप करके, ब्यूटी पार्लर जाकर, अच्छे कपड़े पहनकर जाते थे और हमें लगता था कि वो जो पर्दे की तरफ़ से पलकें झपका रहे हैं या सिर झटक रहे हैं या मुस्करा रहे हैं, वो सिर्फ हमारे लिए कर रहे हैं, उन्होंने आगे कहा कि हॉल में बैठी हर लड़की को ऐसा ही महसूस होता था.

जिस मास 'हिस्टीरिया' की लोग बात करते हैं, उसके अनगिनत किस्से मुझे सुनने को मिले कि कैसे उनकी सफेद गाड़ी, लड़कियों के लिपस्टिक के रंग से गुलाबी हो जाती थी और कैसे उनकी गाड़ी की धूल से लड़कियां अपनी मांग भरती थीं.

उनका क्रेज ऐसा था की उस वक़्त न तोह सोशल मीडिया था न ही टेलीविज़न, फिर भी लोगों के दिलों पर राज करते रहे और एक से बढ़ कर एक ब्लॉक बस्टर दी.