५०० और १००० रूपये के नोट हुए रद्द

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार रात अचानक ५०० और १०० रूपये के नोट पर प्रतिबंध लगा दिया। इन नोटों का चलन बंद हो चुका है लेकिन बैंक में इन्हें बदला जा सकता है।

५०० और १००० रूपये के नोट ५०० और १००० रूपये के नोट हुए रद्द Source : Press
अब तक के सबसे ऐतिहासिक फैसले में केंद्र सरकार ने ५०० और १००० रूपये के नोट पर प्रतिबंध लगा दिया है। ये रोक मंगलवार रात १२ बजे से लागू हो जाएगी। मतलब शनिवार से इन नोट की कीमत शून्य होगी। साथ ही २००० रुपये के नए नोट बाजार में लाने का ऐलान किया. पीएम मोदी देश को संबोधित करते हुए कालाधन पर लगाम लगाने के लिए ये कड़ा कदम उठाया है। लेकिन जिनके पास ५०० और १००० रुपये के नोट हैं वो १० नवंबर २०१६ से ३० दिसंबर २०१६ तक बैंक और डाकघरों में जमा कर बदल सकते है। ५०० और हजार के नोटों के अलावा बाकी सभी नोट और सिक्के नियमित हैं और उनसे लेन-देन हो सकता है. पीएम ने ऐलान किया कि ९ और १० नवंबर को ATM काम नहीं करेंगे. ११ नवंबर की रात १२ बजे तक सभी सरकारी अस्पतालों में पुराने ५०० के नोट भुगतान के लिए स्वीकार किए जाएंगे. इसी तरह ७२ घंटों तक रेलवे के टिकट बुकिंग काउंटर, सरकारी बसों के टिकट बुकिंग काउंटर और हवाई अड्डों पर भी केवल टिकट खरीदने के लिए पुराने नोट मान्य होंगे. नोट पर लगाम लगाने से सरकार और आम लोगों को फायदा लोगों के अपना घर होने का सपना पूरा होगा प्रॉपर्टी रेट होंगे कम सोने के दामों में होंगे गिरावट शेयर मार्केट पर असर ब्लैक मनी पर लगाम नकली नोट का धंधा बंद हवाला का पैसा पर नकेल आतंकी कामों में लगाए जाने वाले पैसे पर नजर एवं रोकथाम करप्शन पर सीधा रोक एवं निगरानी सरकार को टैक्स का सीधा लाभ सरकारी योजनाओं में तेजी सड़क, अस्पताल, पुल-पुलिया, शौक्षणिक संस्थानों एवं विकास कार्यों के निर्माण में तेजी एवं जनता को सीधा फायदा कैशलेस सुविधाओं में इजाफा ऑन लाइन कारोबार में इजाफा एवं लेनदेन में पारदर्शिता मुद्रा बैंक में कारोबार में लाभ बैंक कारोबार में वृद्धि मंदी से उबरने में सहायक एवं लोगों को रोजगार मिलने की संभावना पीएम मोदी ने कहा कि अब जल्द ही २००० रुपये के नोट और ५०० के नए डिजाइन के नोटों को सर्कुलेशन में लाया जाएगा.