Lehren

पकिस्तान अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष से आर्थिक मदद मांग रहा है, दूसरी तरफ 1 ऑटो रिक्शा ड्राइवर से मिले

पकिस्तान जहां एक तरफ से आर्थिक संकट से जुंझ रहा है और अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से आर्थिक मदद मांग रहा है, वहीं दूसरी तरफ एक ऑटो रिक्शा चालाक के खाते से 300 करोड़ रूपए के लेनदेन के मामले से पुरे देश में सनसनी मच गई है।

अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष पकिस्तान अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष से आर्थिक मदद मांग रहा है, दूसरी तरफ 1 ऑटो रिक्शा ड्राइवर से मिले 300 करोड़ Source : Press


पकिस्तान जहां एक तरफ से आर्थिक संकट से जुंझ रहा है और अंतरराष्‍ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) से आर्थिक मदद मांग रहा है, वहीं दूसरी तरफ एक ऑटो रिक्शा चालाक के खाते से 300 करोड़ रूपए के लेनदेन के मामले से पुरे देश में सनसनी मच गई है।

पकिस्तान जांच एजेंसी एफआईए ने ऑटो रिक्शा ड्राइवर को समन जारी कर अपनी बात रखने को कहा है। ऑटो रिक्शा ड्राइवर का नाम रशीद है और वह कराची का रहने वाला है। मुहम्मद रशीद ने कहा, "मुझे संघीय जांच एजेंसी के कार्यालय से फोन आया था और उन्होंने मुझे पूछताछ के लिए आने को कहा। मैं डर गया था कि क्योंकि मैं नहीं जानता था कि क्या हुआ है। जब मैं उनके कार्यालय गया तो उन्होंने मुझे बैंक खाते का रिकॉर्ड दिखाने को कहा।" अधिकारियों ने मुझसे कहा कि मेरे सैलरी अकाउंट से कुछ 300 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ है।

उसका कहना है कि उसने एफआईए के अधिकारियों को अपनी आर्थिक हालत से अगवत करा दिया और वे इसे मानने पर राजी हो गए हैं। पाकिस्तान की संघीय जांच एजेंसी, मनी लांड्रिंग के इन मामलों की जांच कर रही है।


Loading...