एसिडिटी और सीने में जलन के लिए फायदेमंद है सरसों के दाने

सरसों के दाने पेट से जुडी कई समस्याएं जैसी की हार्टबर्न, एसिडिटी और में फायदेमंद होते हैं. सरसों में अल्कलाइन (क्षारीय) गुण पाएं जाते है.

एसिडिटी और सीने में जलन के लिए फायदेमंद है सरसों के दाने एसिडिटी और सीने में जलन के लिए फायदेमंद है सरसों के दाने Source : Press

सीने में जलन यानी की हार्टबर्न की समस्या पेट के पाचन शक्ति से जुड़ा होता है. इसे एसिड रिफलक्स के नाम से भी जानते है भी. सरसों के दाने पेट से जुडी कई समस्याएं जैसी की हार्टबर्न, एसिडिटी और में फायदेमंद होते हैं. सरसों में अल्कलाइन (क्षारीय) गुण पाएं जाते है. आइए जानते है पेट की समस्याओं में कैसे करें सरसों का प्रयोग. 

पानी के साथ सेवन करें

पीली सरसों पाचन के लिए बहुत फायदेमंद होती है. इसके लिए एक चम्मच पीली सरसों के दानों को खाकर ऊपर से एक ग्लास गुनगुना पानी पी लें. 

सरसों के दानों की चाय का सेवन करें

आप सरसों के दानों की चाय भी बना सकते हैं, इसके लिए 2 ग्लास उबलते पानी में एक चम्मच चाय की पत्ती या ग्रीन टी डालें अब इसमें 2 चम्मच पिसी हुई सरसों का पाउडर डालें और इसका सेवन करें. 

छाछ के साथ सरसों के दाने
छाछ के साथ भी सरसों के दाने को खाया जा सकता है. यह भी आपके पेट की गैस, सीने में जलन और अन्य पेट से जुडी समस्याओं में फायदा पहुंचाता है. 

शहद के साथ सरसों के दाने

अगर आपको सरसों के दानों निगलने में दिक्कत हो रही हो तो, इसे पीसकर इसका पाउडर बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं. सीने की जलन और एसिडिटी से तुरंत राहत पाने के लिए सरसों के दानों के पाउडर को 2 चम्मच शहद में मिलाएं और इसे चाटें. इसके इस्तेमाल से आपको जल्द आराम मिलेगा.