Lehren

जहीर खान को लेकर सौरव गांगुली और रवि शास्त्री के बीच बढ़ी तकरार

इस मामले को लेकर बढते विवाद के बीच सीएसी की अगुवाई कर रहे सौरव गांगुली ने रवि शास्त्री के आरोपो पर सफाई देते हुए कहा है कि जहीर खान की नियुक्ति सिर्फ 150 दिनों के लिए की गई है. जब टीम विदेशी दौर पर हो. जबकि टीम के विदेशी दौर का समय इससे भी कम है. सौरव गांगुली के इस बयान के बाद भी रवि शास्त्री अपने क्रिकेट प्रशासक समिति के अध्यक्ष विनोद राय से मिलकर अपनी बात रखेंगे.

जहीर खान ओर सौरव गांगुली जहीर खान को लेकर सौरव गांगुली और रवि शास्त्री के बीच बढ़ी तकरार Source : Press

भारतीय क्रिकेट टीम के कोच को लेकर रार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. पहले कोच पद को लेकर सीएसी और क्रिकेट प्रशासक समित में तकरार हुई. और अब टीम इंडिया के नये हेड कोच रवि शास्त्री ने जहीर खान को गेंदबाजी सलाहकार बनाए जाने की शिकायत कर गांगुली से एक बार फिर से विवाद मोल ले लिया है. रवि शास्त्री का कहना है कि जहीर खान जब 250 दिन टीम को नहीं दे सकते तो उनकी नियुक्ति का क्या फायदा. दरअसल रवि शास्त्री अपने साथ भरत अरूण को फुलटाइम गेंदबाजी कोच के रूप में लाना चाहते हैं. जबकि जहीर खान को सिर्फ विदेशी दौरे के लिए सलाहकार के तौर पर नियुक्ति की गई है. इस मामले को लेकर बढते विवाद के बीच सीएसी की अगुवाई कर रहे सौरव गांगुली ने रवि शास्त्री के आरोपो पर सफाई देते हुए कहा है कि जहीर खान की नियुक्ति सिर्फ 150 दिनों के लिए की गई है. जब टीम विदेशी दौर पर हो. जबकि टीम के विदेशी दौर का समय इससे भी कम है. सौरव गांगुली के इस बयान के बाद भी रवि शास्त्री अपने क्रिकेट प्रशासक समिति के अध्यक्ष विनोद राय से मिलकर अपनी बात रखेंगे. तो वहीं दूसरी ओर सीएसी ने भी इसके लिए अपनी नाराजगी जाहिर की है. जहीर खान ने अपने क्रिकेटिंग करियर में 600 से ज्यादा विकेट लिए हैं. पर रवि शास्त्री उस कोच को लाना चाहते हैं जिसे सिर्फ 4 विकेट मिले हैं. खैर अब देखना ये है कि क्रिकेट प्रशासक समिति इस पर क्या निर्णय लेती है.

You may also like